Breaking News

  • राशिफल 24 मई 2024 : शुक्रवार को कैसे बीतेगा आपका दिन-जानें
  • सीएम सुक्खू का सुधीर पर बड़ा हमला, ड्राइवर के नाम से खरीदी 10 करोड़ रुपये की जमीनें
  • सेपू बड़ी की तारीफ कर दिल्ली लौट जाएंगे पीएम मोदी : विक्रमादित्य सिंह
  • ऊना जिला में दो दिन बंद रहेंगे सभी प्री-प्राइमरी और प्राइमरी स्कूल
  • पीएम नरेंद्र मोदी कल नाहन और मंडी में करेंगे रैली, भाजपा कार्यकर्ताओं में उत्साह
  • हमीरपुर : घर-घर पहुंची मतदान टीमें
  • हिमाचल : मल्लिकार्जुन खड़गे 25 और प्रियंका गांधी 29 मई को करेंगी चुनावी जनसभा
  • चूड़धार यात्रा पर जाने वाले ध्यान दें, नियमों में किए गए ये बदलाव-पढ़ें डिटेल
  • अमित शाह का हिमाचल टूअर फाइनल, इन दिन हमीरपुर और कांगड़ा में करेंगे रैली
  • बुद्ध पूर्णिमा की पूजा के लिए जलाया था दीया, गोंपा में भड़की आग

चंबा मेडिकल कॉलेज में व्हाइट कोट समारोह, फक्र भी और चुनौतियां भी साथ

    एमबीबीएस बैच 2022-23 के प्रशिक्ष डॉक्टरों को पहनाया कोट

    चंबा। एक डॉक्टर के लिए व्हाइट कोट किसी फक्र से कम नहीं होता है। साथ ही चुनौतियां और जिम्मेदारियां भी साथ लाता है। क्योंकि डॉक्टर को धरती का भगवान कहा जाता है। अपनी या अपनों की जिंदगी बचाने के लिए लोगों की उम्मीदें डॉक्टर से कहीं अधिक रहती हैं।
    CISF में कांस्टेबल के 787 पदों पर भर्ती, जल्द करें आवेदन-लास्ट डेट नजदीक

     

    एमबीबीएस बैच 2022-23 का व्हाइट कोट समारोह चंबा पंडित जवाहरलाल नेहरू शासकीय मेडिकल कॉलेज में आयोजित किया गया। शनिवार को आयोजित समारोह में मेडिकल कॉलेज चंबा के प्राचार्य डॉ. पंकज गुप्ता ने विशेष रूप से अपनी उपस्थिति दर्ज करवाई और व्हाइट कोट के महत्व के बारे प्रशिक्षु डॉक्टरों को अवगत करवाया।
    SSC: संयुक्त स्नातक स्तरीय परीक्षा के टियर- I की अस्थाई उत्तर कुंजी जारी

     

    उन्होंने कहा कि समारोह स्वास्थ्य सेवा कैरियर की और यात्रा में पारित होने का एक संस्कार है, जो मेडिकल प्रशिक्षु डॉक्टरों के लिए एक औपचारिक कार्यक्रम है। समारोह के दौरान प्राचार्य ने नए प्रशिक्षु डॉक्टरों को सफेद कोट पहनाया और कहा कि सफेद कोट पहनकर आपने पीड़ित मानवता की जरूरतों के लिए अपना जीवन समर्पित करने के लिए चुना है।

    सफेद कोट आपको पहचान, आत्मविश्वास, सशक्तिकरण और सम्मान देता है, लेकिन निश्चित रूप से यह आपको और अधिक चुनौतियां और जिम्मेदारियां देगा। प्राचार्य डॉ. पंकज गुप्ता ने कहा कि चिकित्सा एक महान पेशा है और इसके लिए कड़ी मेहनत, समर्पण प्रतिबद्वता करुणा और सहानुभूति की आवश्यकता होती है।
    CBSE की फेक वेबसाइट बनाकर हो रही ठगी, बोर्ड ने किया आगाह

    फोरेंसिक मेडिसिन विभागाध्यक्ष डॉ. प्रदीप सिंह ने प्रशिक्षु डॉक्टरों को रैगिंग को बर्दाश्त नहीं करने को कहा और कहा कि जब भी कोई प्रशिक्षु रैगिंग की घटना का सामना करता है तो उसे तुरन्त प्राचार्य या एंटी रैगिंग कमेटी के किसी भी सदस्य को रिपोर्ट करनी चाहिए।
    SJVN ने प्रशिक्षुता प्रशिक्षण के लिए मांगे आवेदन, यह लास्ट डेट

     

    उन्होंने यह भी कहा कि परिसर के साथ साथ परिसर के बाहर भी अनुशासन बनाएं रखें। इस मौके पर डॉ. रंजन कत्याल, डॉ. रंजीत कौर, डॉ. जावेद मुल्ला, डॉ. विनोद कुमार भारद्वाज, डॉ. अमित, डॉ. गौरव भाटिया, डॉ. आकाश श्रीवास्तव, डॉ. गौरव कटोच, डॉ. बिक्रमजीत सिंह सहित अन्य डॉक्टर मौजूद रहे।
    पौष महीने की पहली एकादशी 19 को, भगवान विष्णु-मां लक्ष्मी के साथ करें तुलसी पूजा 


    आज की ताजा खबर, ब्रेकिंग न्यूज़, लाइव न्यूज अपडेट पढ़ें https://ewn24.in/ पर,  ताजा अपडेट के लिए हमारा Facebook Page Like करें  

     

Himachal Latest

Live video

Jobs/Career

Trending News

  • Crime

  • Accident

  • Politics

  • Education

  • Exam

  • Weather