Breaking News

  • मुख्यमंत्री सुक्खू बोले - बिकाऊ विधायकों ने भाजपा का कमल ही खरीद लिया
  • Breaking : हिमाचल पुलिस के कर्मचारी अब वर्दी में नहीं बना सकेंगे रील, वीडियो
  • लाहौल स्पीति : काजा पहुंची EVM और VVPAT, सुरक्षित स्ट्रॉन्ग रूम में पहुंचाईं
  • हिमाचल : गर्मी ने तोड़ा 10 साल का रिकॉर्ड, शिमला में रविवार सीजन का सबसे गर्म दिन
  • पंडित जवाहरलाल नेहरू की पुण्यतिथि : शिमला राजीव भवन में दी गई श्रद्धांजलि
  • हिमाचल के बागवानों को क्यों नहीं मिलते सेब के सही दाम, राहुल गांधी ने बताया कारण
  • हिमाचल में चढ़ा पारा, अभी सताएगी लू- इस दिन राहत की उम्मीद
  • हिमाचल मौसम अपडेट : अब इस दिन बारिश की उम्मीद, बरस सकते हैं मेघ
  • मनाली घूमने जा रहे पर्यटकों से भरे टैंपो ट्रैवलर और ट्रक में टक्कर, 13 घायल
  • पठानकोट-मंडी एनएच पर दरकी पहाड़ी, तीन मशीनें आई चपेट में, मार्ग अवरुद्ध

हिमाचल विधानसभा चुनाव: 68 फीसदी रही थर्ड जेंडर की मतदान प्रतिशतता

    38 में से 26 ने किया मत का प्रयोग

    शिमला। मुख्य निर्वाचन अधिकारी मनीष गर्ग ने आज यहां बताया कि 2017 के विधानसभा और 2019 के लोकसभा चुनाव की तुलना में 2022 के विधानसभा चुनाव में थर्ड जेंडर समुदाय के मतदाताओं की संख्या में उल्लेखनीय 68 प्रतिशत की वृद्धि दर्ज की गई है।
    हिमाचल : दो उद्योगों में छापेमारी, भारी मात्रा में नकली बोतलबंद पेयजल जब्त

    उन्होंने बताया कि भारत निर्वाचन आयोग के मार्गदर्शन में निर्वाचन विभाग द्वारा थर्ड जेंडर समुदाय के अधिकांश मतदाताओं को निर्वाचन प्रक्रिया में शामिल करने के लिए अनेक प्रयास किए गए तथा उन्हें मताधिकार का प्रयोग करने के लिए जागरूकता अभियानों में शामिल किया गया।
    Jio 4G डाउनलोड व अपलोड स्पीड में नंबर वन, एयरटेल की हालत खराब 

    वर्ष 2017 में सम्पन्न विधानसभा चुनाव की मतदाता सूची में ट्रांसजेंडर समुदाय को थर्ड जेंडर की श्रेणी में शामिल किया गया था। उस दौरान थर्ड जेंडर मतदाताओं की कुल संख्या 14 थी, जिसमें से केवल 2 मतदाताओं ने अपने मताधिकार का प्रयोग किया था, जो 14 प्रतिशत रहा।

    इसी तरह लोकसभा चुनाव 2019 में पंजीकृत थर्ड जेंडर मतदाताओं में से केवल 34 प्रतिशत ने वोट डाला।मुख्य निर्वाचन अधिकारी ने कहा कि 2022 के विधानसभा चुनाव के लिए 15 जनवरी, 2022 को प्रकाशित मतदाता सूची में केवल 17 थर्ड जेंडर मतदाता ही पंजीकृत थे।
    एडीसी कांगड़ा ने बैजनाथ में जांची स्ट्रांग रूम की सुरक्षा व्यवस्था 

    चुनाव आयोग और निर्वाचन विभाग की पहल के कारण इस श्रेणी के मतदाताओं के पंजीकरण में 10 अक्तूबर, 2022 को प्रकाशित मतदाता सूची के अनुसार इनकी संख्या 17 से बढ़कर 37 हो गई। अंतिम मतदाता सूची के प्रकाशन के बाद अब इनकी कुल संख्या 38 हो गई है।

    मुख्य निर्वाचन अधिकारी ने बताया कि मुख्य चुनाव आयुक्त राजीव कुमार ने सितम्बर माह में अपने हिमाचल प्रवास के दौरान इस बात पर विशेष बल दिया था कि चुनाव आयोग वरिष्ठ नागरिकों, दिव्यांग मतदाताओं तथा थर्ड जेंडर व्यक्तियों के लिए पहल करेगा, ताकि उन्हें ससम्मान चुनावी प्रक्रिया में भागीदार बनाया जा सके।

    इसके लिए उनकी उपस्थिति में सोलन जिला के धर्मपुर में स्थापित आदर्श मतदान केंद्र में थर्ड जेंडर समुदाय के मतदाता को सम्मानित भी किया गया तथा उन्हें यह समझाने का प्रयास किया गया कि वे चुनावी लोकतांत्रिक प्रक्रिया में अपनी महत्वपूर्ण भूमिका निभा सकते हैं और इसके लिए उन्हें बिना किसी भय के चुनावों में भाग लेना चाहिए।

    मुख्य निर्वाचन अधिकारी  ने कहा कि निर्वाचन विभाग के प्रयासों के परिणामस्वरूप इन विधानसभा चुनावों के लिए 12 नवंबर को हुए मतदान में 38 में से 26 थर्ड जेंडर के 68 प्रतिशत  मतदाताओं ने अपने मताधिकार का प्रयोग किया जो 2019 के लोकसभा चुनाव की अपेक्षा दोगुना है। नादौन, नालागढ़ में तीन-तीन, दून में दो, भटियात, नूरपुर, धर्मशाला, बैजनाथ, कुल्लू, सुंदरनगर,  सरकाघाट, हमीरपुर, चिंतपूर्णी, कुठलैहड़, झंडूता, घुमारवीं, अर्की, सोलन, पच्छाद, , नाहन, पांवटा साहिब,  ठियोग में एक-एक थर्ड जेंडर ने मत का प्रयोग किया है।

    बिलासपुर जिले के थर्ड जेंडर मतदाता बिजली महंत को जिला आइकन बनाया गया है तथा राज्य के अन्य जिलों में भी इस समुदाय के सदस्यों को राज्य और जिला चुनाव आइकन के रूप में नियुक्त करने के लिए सभी प्रयास किए जा रहे हैं।
    हिमाचल कर्मचारी चयन आयोग ने यह फाइनल रिजल्ट किया घोषित 

    [embed]
    [/embed]
    आज की ताजा खबर, ब्रेकिंग न्यूज़, लाइव न्यूज अपडेट पढ़ें https://ewn24.in/ पर,  ताजा अपडेट के लिए हमारा Facebook \Page Like करें  

Himachal Latest

Live video

Jobs/Career

Trending News

  • Crime

  • Accident

  • Politics

  • Education

  • Exam

  • Weather