Breaking News

  • राशन कार्ड से जुड़ेगा बिजली मीटर, जानें कैबिनेट के पूरे फैसले
  • 300 यूनिट फ्री बिजली देने का था वादा 125 यूनिट में भी कट : जयराम ठाकुर
  • हिमाचल कैबिनेट : शिक्षकों के 486, पुलिस ऑफिशियल के 60 पदों सहित इन पोस्टों पर भर्ती को हरी झंडी
  • हिमाचल कैबिनेट : इन्हें नहीं मिलेगा 125 यूनिट फ्री बिजली का लाभ
  • शिमला : तारादेवी मंदिर में अब टौर के पत्तल में परोसा जाएगा लंगर
  • कंगना रनौत के चचेरे भाई की शादी, शेयर की खूबसूरत तस्वीरें, देखें
  • HPU में हुई शिक्षकों की भर्तियां सवालों के घेरे में : SFI ने की न्यायिक जांच की मांग
  • हिमाचल कैबिनेट की बैठक शुरू, लिए जाएंगे कई अहम फैसले
  • हिमाचल हाईकोर्ट के नए चीफ जस्टिस होंगे राजीव शकधर
  • शिमला पहुंचते ही भूस्खलन की घटना का निरीक्षण करने पहुंचे मुख्यमंत्री सुक्खू

शिमला में इलेक्ट्रिक वाहन की टेस्ट ड्राइव, डिप्टी सीएम ने की सवारी

ewn24news choice of himachal 19 Dec,2022 4:23 pm

    बोले- हिमाचल में नई इलेक्ट्रिक वाहन नीति लागू की जा रही है


    शिमला। हिमाचल के डिप्टी सीएम मुकेश अग्निहोत्री ने कहा कि हिमाचल प्रदेश में नवोन्वेषी विचारों के साथ नई इलेक्ट्रिक वाहन नीति लागू की जा रही है और राज्य सरकार परिवहन क्षेत्र में सुधार की दिशा में कदम बढ़ा रही है। डिप्टी सीएम मुकेश अग्निहोत्री ने आज यहां इलेक्ट्रिक वाहन की टेस्ट ड्राइव के अवसर पर संबोधित कर रहे थे। उन्होंने सचिवालय से कुछ दूरी तक इलेक्ट्रिक वाहन में सवारी कर इसके तकनीकी पहलुओं की जानकारी भी प्राप्त की।


    शिमला: शहर में जाम से बचने को रोडमैप तैयार, 106 जवान रहेंगे तैनात


    मुकेश अग्निहोत्री ने कहा कि प्रदेश में परिवहन क्षेत्र में आमूलचूल परिवर्तन की दिशा में सकारात्मक प्रयास किए जाएंगे। नई इलेक्ट्रिक वाहन नीति लागू करने के लिए विभिन्न स्तरों पर चर्चा की जा रही है। शुरुआती स्तर पर सचिवालय में इलेक्ट्रिक वाहनों के परिचालन को बढ़ावा दिया जाएगा और इसके उपरांत सार्वजनिक परिवहन सेवाओं में भी विद्युत चालित वाहनों का उपयोग बढ़ाया जाएगा। परिवहन विभाग में अति शीघ्र इलेक्ट्रिक वाहनों का बेड़ा शामिल किया जाएगा और इसके लिए निदेशक परिवहन को आवश्यक निर्देश जारी किए गए हैं। इसके लिए विभिन्न कंपनियों से संपर्क कर इन विद्युत चालित वाहनों की टेस्ट ड्राइव सहित विभिन्न तकनीकी पहलुओं की जानकारी प्राप्त की जा रही है।



    क्लर्क की इस छंटनी परीक्षा के नहीं मिले हैं एडमिट कार्ड तो करें ऐसा


    उन्होंने कहा कि पूर्व सरकार के समय भी मुख्यमंत्री के लिए एक विद्युत चालित वाहन प्रदान किया गया था। हालांकि इसे बाद में सामान्य प्रशासन को सौंप दिया गया था। मुकेश अग्निहोत्री ने कहा कि इलेक्ट्रिक वाहन नीति के बारे में मुख्यमंत्री से चर्चा के उपरांत मंत्रिमंडल में इस मामले को रखा जाएगा। इसके अतिरिक्त केंद्र सरकार से भी बातचीत की जाएगी। उन्होंने कहा कि पहाड़ी प्रदेश में पर्यावरण संरक्षण एवं इस पर्यटन राज्य में इलेक्ट्रिक वाहनों के संचालन को बढ़ावा देना राज्य सरकार की प्राथमिकता है और इलेक्ट्रिक वाहनों की खरीद पर चर्चा उपरांत शीघ्र निर्णय लिया जाएगा।



    चरस लेकर शिमला रिज पर घूम रहा था उत्तराखंड का नशा तस्कर, धरा


    उन्होंने कहा कि इलेक्ट्रिक वाहनों की चार्जिंग के लिए भी उपयुक्त कदम उठाते हुए उचित मापदंडों के अनुसार चार्जिंग स्टेशन स्थापित किए जाएंगे। शुरुआती चरण में सचिवालय सहित प्रदेश के विभिन्न सरकारी संस्थानों तथा प्रदेश से बाहर हिमाचल सदन एवं भवनों इत्यादि में भी यह सुविधा प्रदान की जाएगी। उन्होंने कहा कि वाहनों की लाईसेंस प्रणाली को सुदृढ़ करते हुए नए ड्राइविंग टेस्ट ट्रैक स्थापित करने की दिशा में भी उचित कदम उठाए जाएंगे, ताकि सड़क सुरक्षा मानकों का अनुपालन सुनिश्चित किया जा सके। इस बारे में अधिकारियों को अध्ययन करने को कहा गया  इस अवसर पर प्रधान सचिव परिवहन आर.डी. नज़ीम, निदेशक परिवहन अनुपम कश्यप सहित अन्य वरिष्ठ अधिकारी भी उपस्थित थे।



    आज की ताजा खबर, ब्रेकिंग न्यूज़, लाइव न्यूज अपडेट पढ़ें https://ewn24.in/ पर,  ताजा अपडेट के लिए हमारा Facebook Page Like करें  





Himachal Latest

Live video

Jobs/Career

Trending News

  • Crime

  • Accident

  • Politics

  • Education

  • Exam

  • Weather