Breaking News

  • राशिफल 24 मई 2024 : शुक्रवार को कैसे बीतेगा आपका दिन-जानें
  • सीएम सुक्खू का सुधीर पर बड़ा हमला, ड्राइवर के नाम से खरीदी 10 करोड़ रुपये की जमीनें
  • सेपू बड़ी की तारीफ कर दिल्ली लौट जाएंगे पीएम मोदी : विक्रमादित्य सिंह
  • ऊना जिला में दो दिन बंद रहेंगे सभी प्री-प्राइमरी और प्राइमरी स्कूल
  • पीएम नरेंद्र मोदी कल नाहन और मंडी में करेंगे रैली, भाजपा कार्यकर्ताओं में उत्साह
  • हमीरपुर : घर-घर पहुंची मतदान टीमें
  • हिमाचल : मल्लिकार्जुन खड़गे 25 और प्रियंका गांधी 29 मई को करेंगी चुनावी जनसभा
  • चूड़धार यात्रा पर जाने वाले ध्यान दें, नियमों में किए गए ये बदलाव-पढ़ें डिटेल
  • अमित शाह का हिमाचल टूअर फाइनल, इन दिन हमीरपुर और कांगड़ा में करेंगे रैली
  • बुद्ध पूर्णिमा की पूजा के लिए जलाया था दीया, गोंपा में भड़की आग

हिमाचल केंद्रीय विवि में संस्कृत की विशिष्ट कक्षाओं का आगाज

    संस्कृत-विभाग के विभागाध्यक्ष डॉ. बृहस्पति मिश्र ने की अध्यक्षता

    धर्मशाला। हिमाचल प्रदेश केंद्रीय विश्वविद्यालय के संस्कृत-विभाग की ओर से विभागीय स्नातकोत्तर प्रथम सत्र (2022-24) तथा शास्त्री प्रथम सत्र (2022-24) छात्रों के लिए कार्यशाला स्वरूप संस्कृत की 10 दिवसीय विशिष्ट कक्षाओं का शुभारंभ किया गया। कक्षाओं का आगाज धौलाधार परिसर एक में हुआ। विशिष्ट कक्षाओं के शुभारंभ कार्यक्रम के मुख्य अतिथि हिमाचल प्रदेश केंद्रीय विश्वविद्यालय के पुस्तकालय अध्यक्ष डॉ. विक्रम शर्मा मौजूद रहे। कार्यक्रम की अध्यक्षता संस्कृत-विभाग के विभागाध्यक्ष डॉ. बृहस्पति मिश्र ने की।
    कांगड़ा-चंबा अग्निवीर भर्ती लिखित परीक्षा का रिजल्ट आउट-देखें यहां

    इस मौके पर बतौर मुख्य अतिथि छात्रों को संबोधित करते हुए डॉ. विक्रम शर्मा ने कहा कि आधुनिक शिक्षा क्षेत्र में आ रही क्रान्ति में संस्कृत भाषा एक महत्त्वपूर्ण भूमिका निभाने वाली है। विश्व के अनेक स्थानों पर हम इसके उदाहरण देख भी रहे हैं। इसलिए हमें समाज की इस मानसिकता को ध्यान में रखते हुए संस्कृत अध्ययन पर विशेष बल देनें की आवश्यकता है।

    कार्यक्रम की अध्यक्षता कर रहे संस्कृत-विभाग के विभागाध्यक्ष डॉ. बृहस्पति मिश्र ने त्रिभाषा सूत्र का उल्लेख करते हुए बताया कि किस प्रकार समय-समय पर संस्कृत पर कुठाराघात हुआ है। उन्होंने कक्षा के महत्त्व को प्रतिपादित करते हुए संस्कृत सम्भाषण के महत्त्व को बताया। बीज वक्तव्य विशिष्ट कक्षाओं के संयोजक डॉ. नरेन्द्र पाण्डेय ने किया।

    अतिथि परिचय डॉ. कुलदीप शर्मा ने तथा धन्यवाद ज्ञापन विशिष्ट कक्षाओं के सह संयोजक डॉ. वैति सुब्रह्मणियन ने किया। कार्यक्रम का संचालन विशिष्ट कक्षाओं के शिक्षक विशाल शर्मा ने दिया। कार्यक्रम का शुभारंभ वैदिक मंत्रोच्चार के साथ हुआ। उद्घाटन कार्यक्रम में विभागीय शिक्षक डॉ. अर्चना कुमारी, डॉ. विवेक शर्मा, डॉ. भजहरि दास सहित समस्त संस्कृत-विभाग के छात्र उपस्थित रहे।
    डीसी के निर्देश: दफ्तरों में जरूरत अनुसार चलाएं हीटिंग उपकरण 



    आज की ताजा खबर, ब्रेकिंग न्यूज़, लाइव न्यूज अपडेट पढ़ें https://ewn24.in/ पर,  ताजा अपडेट के लिए हमारा Facebook Page Like करें  

Himachal Latest

Live video

Jobs/Career

Trending News

  • Crime

  • Accident

  • Politics

  • Education

  • Exam

  • Weather