Categories
Politics Top News Himachal Latest KHAS KHABAR Shimla State News

हिमाचल में कब हो सकते हैं विधानसभा चुनाव, क्या कहते हैं आंकड़े-पढ़ें विशेष रिपोर्ट

शिमला। हिमाचल में विधानसभा चुनाव का बिगुल कभी भी बज सकता है। चुनाव कब तक हो सकते हैं, पिछले आंकड़ों से इस सवाल का जवाब ढूंढने की कोशिश करते हैं …

हिमाचल की जयराम सरकार का कार्यकाल 8 जनवरी 2023 तक और गुजरात में 18 फरवरी 2023 तक है। ऐसे में हिमाचल में नई सरकार का गठन 8 जनवरी और गुजरात में 18 फरवरी तक होना है। हिमाचल और गुजरात में एक साथ चुनाव की घोषणा होती है तो गुजरात में समय से काफी पहले चुनाव होंगे।

वहीं, गुजरात के अहमदाबाद में ब्रह्म स्वरूप प्रमुख स्वामी जी महाराज की जन्म शताब्दी के अवसर पर एक आयोजन प्रस्तावित है। यह आयोजन 15 दिसंबर से शुरू होकर 13 जनवरी तक चलेगा। गुजरात में इस समुदाय की बहुत ज्यादा प्रतिष्ठा है। इसमें काफी संख्या में लोगों के शामिल होने की संभावना है। अगर गुजरात में चुनाव देरी से करवाए जाते हैं तो वोटिंग प्रतिशतता प्रभावित हो सकती है।

देहरा : विधायक होशियार सिंह ने चुनाव से पहले मानी हार, क्या बोले-पढ़ें

ऐसे में अगर चुनाव आयोग दोनों राज्यों में एक साथ चुनाव करवाता है तो चुनावी प्रक्रिया 15 दिसंबर से पहले पूरी करनी होगी। हिमाचल में चुनाव नवंबर 20 के बाद हो सकते हैं। अगर अलग-अलग चुनाव होते हैं तो गुजरात में 13 जनवरी के बाद चुनाव करवाए जाने की संभावना बन रही है।

हालांकि, इसकी संभावना कम है क्योंकि गुजरात में 182 सीटें हैं, चुनाव के लिए एक माह पांच दिन का वक्त रहेगा, जोकि काफी कम है। अलग-अलग चुनाव होने पर हिमाचल में दिसंबर अंत तक चुनावी प्रक्रिया पूरी होगी। पर जनजातीय क्षेत्रों में नवंबर में ही चुनाव करवाने होंगे।

किन्नौर, लाहौल-स्पीति और भरमौर में दिसंबर माह में बर्फबारी का दौर शुरू हो जाता है और मार्च तक रहता है। बर्फबारी में मतदान में दिक्कत न हो इसके चलते बर्फबारी से पहले मतदान करवाना होता है। अगर इस संभावना को देखें तो नवंबर माह के अंत तक हिमाचल में मतदान हो सकता है। अगर हिमाचल में मतदान चरणों में होता है तो जनजातीय क्षेत्रों में नवंबर अंत तक मतदान हो सकता है। बचे विधानसभा क्षेत्रों में दिसंबर पहले हफ्ते तक चुनावी प्रक्रिया पूरी हो सकती है।

एक साथ चुनाव होने की स्थिति में दोनों राज्यों में आचार संहिता 22 अक्टूबर के बाद कभी भी लागू हो सकती है। क्योंकि गुजरात के गांधीनगर में 18 अक्टूबर से डिफेंस एक्सपो 2022 की शुरूआत होनी है। यह आयोजन 22 अक्टूबर तक चलेगा। इसमें केंद्रीय मंत्रियों के आने का कार्यक्रम है। इस पहलू को देखते हुए 22 के बाद चुनावों का ऐलान होस सकता है। इससे आचार संहिता आड़े नहीं आएगी। पिछली बार अक्टूबर के अंतिम सप्ताह में ही चुनावों की घोषणा हुई थी।

Breaking : नालागढ़ के पास खाई में गिरी कार, तीन की गई जान

हिमाचल में वर्ष 1985 से 2017 तक वोटिंग की बात करें तो 1985, 1990 और 1993 में सभी विधानसभा क्षेत्रों में एक साथ वोट डले थे। 1998, 2003 और 2007 में किन्नौर, भरमौर और लाहौल स्पीति में अलग तिथि और बाकी विधानसभा क्षेत्रों में अलग डेट को मतदान हुआ था। 2012 और 2017 में फिर सभी विधानसभा क्षेत्रों में एक साथ वोटिंग हुई थी।

1985 में सभी विधानसभा क्षेत्रों में 3 मई को वोटिंग हुई थी। मई में जनजातीय क्षेत्रों में मौसम ठीक होता है। इसके चलते एक साथ वोटिंग में कोई दिक्कत न थी। 1990 में सभी जगह 27 फरवरी को मतदान हुआ था। पर जनजातीय क्षेत्रों में परेशानी उठानी पड़ी थी। 1993 में समय से पहले चुनाव होने से 11 सितंबर को वोटिंग हो गई थी। इसलिए सभी जगह मतदान करवाने में दिक्कत न थी।

1998 में किन्नौर, लाहौल व भरमौर को छोड़कर अन्य जगहों पर 28 फरवरी को वोटिंग हुई थी और 2 मार्च को मतगणना के बाद रिजल्ट निकला था। मौसम के मिजाज के चलते किन्नौर, लाहौल व भरमौर में 3 जून को वोट डले थे और 6 जून को मतगणना के बाद रिजल्ट घोषित हुआ था।

चंबा : खराब सड़क पर फिसला टायर, यात्रियों से भरी निजी बस दुर्घटनाग्रस्त 

2003 में भी किन्नौर, लाहौल व भरमौर के अलावा 26 फरवरी को मतदान हुआ और 1 मार्च को कोटिंग के बाद रिजल्ट निकला था। किन्नौर, लाहौल स्पीति व भरमौर मे 8 जून को वोट डले थे और 11 जून को मतों की गिनती हुई थी। इसके बाद रिजल्ट निकला था।

2007 में बर्फबारी की संभावना के चलते किन्नौर, लाहौल स्पीति व भरमौर में 14 नवंबर को वोट डले थे। अन्य जगहों पर 19 दिसंबर को वोटिंग हुई थी। सभी विधानसभा क्षेत्रों का रिजल्ट 28 दिसंबर को घोषित हुआ था। 2012 में सभी जगह एक साथ मतदान की मांग के चलते 4 नवंबर सभी जगह मतदान करवा दिया गया था। 20 दिसंबर को वोटों की गिनती के बाद रिजल्ट घोषित किया था। 2017 में सभी विधानसभा क्षेत्रों में 9 नवंबर को वोट डले थे और 18 दिसंबर को रिजल्ट निकला था।

HP Cabinet: सृजित होंगे अधीक्षक ग्रेड-1 के 8 पद, SEO के 9 पदों पर होगी भर्ती

हिमाचल कैबिनेट: पंचायती राज विभाग में तकनीकी सहायकों के भरे जाएंगे 164 पद 

आज की ताजा खबर, ब्रेकिंग न्यूज़, लाइव न्यूज अपडेट पढ़ें https://ewn24.in/ पर,  ताजा अपडेट के लिए हमारा Facebook Page Like करें  

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *