Categories
Top News Crime Sirmaur

सिरमौर हादसाः एक साथ जलीं 8 चिताएं, डीसी ने जांच को बनाई कमेटी

 

एसडीएम की अध्यक्षता में कमेटी एक हफ्ते में सौंपेगी जांच रिपोर्ट

शिलाई। हिमाचल के सिरमौर जिला के शिलाई उपमंडल में हुआ हादसा कई लोगों को गहरे और पूरी उम्र ना भुलने वाले जख्म दे गया है। आज जब नेड़ा खड्ड में चिखाड़ श्मशानघाट पर जब एक साथ 8 चिताएं जलीं तो लोग अपने आंसू नहीं रोक पाए। बली राम का दुख तो शायह सबसे अधिक था। जिन्होंने इस हादसे में अपने दोनों बेटों को खो दिया। बेटों से कंधे की उम्मीद लगाए बैठे बली राम को अपने दोनों लाडलों की अर्थी को कंधा देना पड़ा। गौरतलब है कि टिंबी के पास मलाह सड़क पर पिछले कल बारातियों से भरी बोलेरो खाई में गिर गई थी। हादसे में 9 लोगों ने मौके पर ही दम तोड़ दिया और एक की मृत्यु कल पांवटा साहिब अस्पताल में हुई थी। वहीं, 21 वर्षीय अक्षय ने पीजीआई में दम तोड़ा। ऐसे में हादसे में मृतकों की संख्या 11 पहुंच गई है। एक घायल कमना राम 57 का इलाज पीजीआई में चल रहा है।

यह भी पढ़ें :- हिमाचल में बड़ा हादसा: खाई में गिरे ट्रैकिंग पर निकले दो युवक, गई जान

उधर, डीसी सिरमौर राम कुमार गौतम ने शिलाई तहसील के कोटी-उतरौउ में गत दिन हुई पिकअप दुर्घटना में 6 सदस्यों की कमेटी गठित कर मजिस्ट्रियल जांच के आदेश दिए हैं। डीसी द्वारा सिरमौर हादसे की जांच को बनाई इस कमेटी की अध्यक्षता एसडीएम शिलाई सुरेश सिंघा करेंगे, जोकि एक सप्ताह के भीतर अपनी रिपोर्ट सौंपेंगे। इस कमेटी में अधिशाषी अभियंता लोक निर्माण विभाग शिलाई प्रमोद उपरेती, सहायक अभियंता यांत्रिक लोक निर्माण विभाग उपमंडल नाहन कमल शर्मा, थाना प्रभारी शिलाई एमआर ठाकुर, तहसीलदार शिलाई निशा आजाद, खंड चिकित्सा अधिकारी शिलाई अभय राणा सदस्य होंगे। उन्होंने बताया कि गत दिन दुघर्टनाग्रस्त वाहन में 12 व्यक्ति सवार थे, जिसमें से 11 व्यक्तियों की मृत्यु हो चुकी है। जबकि एक व्यक्ति पीजीआई चंडीगढ़ में अभी उपचाराधीन है। जिला प्रशासन की ओर से मृतकों के परिजनों व घायल अग्रिम राहत के तौर पर राहत राशि मौके पर ही जारी कर दी गई है।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए facebook page like करें 

Leave a Reply

Your email address will not be published.