Categories
Top News Himachal Latest Kangra State News

 पर्यटन कारोबार से जुड़े लोग हर 15 दिन बाद करवाएं कोविड टेस्ट

डीसी कांगड़ा ने दुकानदारों तथा टैक्सी संचालकों को भी दिए निर्देश

धर्मशाला। होटल इंडस्ट्री, टैक्सी चालकों सहित दुकानदारों का पंद्रह दिन में एक बार कोविड टेस्ट करवाया जाएगा, इसमें व्यापार मंडलों, होटल एसोसिएशन तथा टैक्सी आपरेटर यूनियन के पदाधिकारियों को भी अपना रचनात्मक सहयोग देने के लिए कहा गया है, ताकि कोविड संक्रमण की प्रारंभिक स्तर पर ही रोक हो सके। इसके साथ ही पर्यटन कारोबार से जुड़े लोगों के लिए कोविड टीकाकरण के लिए भी विशेष सत्र आयोजित करने के निर्देश स्वास्थ्य विभाग को दिए गए हैं।

यह भी पढ़ें :- नंगे पैर बारिश से नुकसान का जायजा ले रहे एसडीएम की फोटो वायरल

यह जानकारी डीसी डा. निपुण जिंदल ने मंगलवार को बीडीओ कार्यालय के सभागार में कांगड़ा जिला की विभिन्न होटल संस्थाओं, व्यापार मंडलों तथा टैक्सी आपरेटर यूनियन के लिए आयोजित कोविड जागरूकता कार्यशाला में बतौर मुख्यातिथि व्यक्त किए। उन्होंने कहा कि धर्मशाला तथा इसके आसपास के क्षेत्रों में रोजाना हजारों की संख्या में पर्यटक देश तथा विदेशों से घूमने के लिए आते हैं, जिसके चलते ही होटल कारोबारियों के लिए कोविड प्रोटोकॉल की अनुपालना सुनिश्चित करना जरूरी है।

उन्होंने कहा कि पर्यटन कारोबार से जुड़े लोगों के लिए टेस्टिंग तथा टीकाकरण के लिए भी जिला प्रशासन द्वारा व्यवस्था की जा रही है। उन्होंने कहा कि पर्यटन कारोबारियों के लिए विशेष कोविड टेस्टिंग अभियान भी आरंभ किया गया है। कांगड़ा जिला में होटल कारोबार से जुड़े लोगों के लिए 18 के करीब टेस्टिंग कैंप आयोजित किए जा चुके हैं, जिसमें 1,300 लोगों की टेस्टिंग की गई है तथा सबकी रिपोर्ट अभी तक नेगेटिव आई है। इसी तरह से होटल कारोबार से जुड़े लोगों के लिए कोविड टीकाकरण अभियान भी आरंभ किया गया, जिसमें अभी तक 27 विशेष सत्र आयोजित किए गए हैं, करीब 1,000 लोगों को वैक्सीन की डोज दी जा चुकी है।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए facebook page like करें 

डीसी डा. निपुण जिंदल ने कहा कि होटलों में भी कोविड प्रोटोकॉल का पूरा ध्यान रखा जाए, होटलों को नियमित तौर पर सेनेटाइज करने के साथ साथ फूड सर्विस उपलब्ध करवाते समय भी कोविड प्रोटोकॉल का विशेष ध्यान रखना जरूरी है। उन्होंने कहा कि टैक्सियों तथा बसों की सुचारू सेनेटाइजेशन की जाए इसके साथ ही बसों में टिकट तथा पैसे इत्यादि देते समय भी चालकों को हाथों को सेनेटाइज करना अत्यंत जरूरी है। उन्होंने कहा कि नो मास्क नो सर्विस का भी पूरा ध्यान रखा जाए तथा सभी पर्यटकों तथा उपभोक्ताओं को मास्क का उपयोग करने के लिए प्रेरित किया जाए। इसके साथ ही होटलों में सामाजिक दूरी का भी पूरा ध्यान रखा जाए। इससे पहले सीएमओ डा गुरदर्शन ने स्वास्थ्य विभाग की ओर से कोविड से बचाव के लिए जारी निर्देशों के बारे में विस्तार से जानकारी प्रदान की। इस अवसर पर जिला विधिक सेवाएं प्राधिकरण सचिव सीनियर सिविल जज अमित मंडयाल, एडीएम रोहित राठौर, उपनिदेशक पर्यटन विभाग सुनयना शर्मा सहित विभिन्न विभागों के अधिकारी उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.