Categories
Top News Crime Lahoul Spiti State News

किन्नौर हादसे में नेवी लेफ्टिनेंट ने भी गंवाई जान, दोस्त के साथ घूमने आए थे हिमाचल

छत्तीसगढ़ के कोरबा के रहने वाले थे लेफ्टिनेंट अमोघ बापट

नई दिल्ली। हिमाचल प्रदेश के किन्नौर जिला में रविवार को लैंडस्लाइड ने 9 लोगों की जान ले ली। इस हादसे में नेवी में लेफ्टिनेंट अमोघ बापट की भी मौत हो गई है। अमोघ अपने दोस्त सतीश कटकवार के साथ शिमला घूमने गए थे। इसी दौरान ये हादसा हो गया। लेफ्टिनेंट अमोघ बापट छत्तीसगढ़ के कोरबा के रहने वाले थे। सांगला-छितकुल रोड पर बटसेरी के पास चलते टेंपो ट्रैवलर पर चट्टानें गिरने से ये हादसा हुआ था।

 

हिमाचल में बड़ा हादसा : पहाड़ी दरकने से 9 पर्यटकों की गई जान- तीन घायल

 

नेवी में लेफ्टिनेंट अमोघ वापट अंडमान में तैनात थे और तीन दिन पहले ही 15 दिन की छुट्टी लेकर कोरबा आए थे। इसके बाद वे अपने दोस्त सतीश कटवार के साथ शिमला घूमने गए थे। सतीश जांजगीर चांपा के रहने वाले थे और वह 18 जुलाई को शिमला घूमने गए थे। रविवार को उनका टूरिस्ट वाहन किन्नौर जा रहा था तभी एक बड़ी सी चट्टान सड़क पर आ गिरी और इसकी चपेट में वाहन आ गया। मौके पर ही 8 लोगों की मौत हो गई जबकि एक ने अस्पताल में इलाज के दौरान दम तोड़ा।

मरने वालों में सतीष और अमोघ भी शामिल हैं। दोनों की मौके पर ही मौत हो गई थई। पहचान के बाद किन्नौर पुलिस ने कोरबा पुलिस को यह जानकारी दी। इसके बाद परिजन उनके शव को लेने हिमाचल पहुंचे। लेफ्टिनेंट अमोघ बापट के पिता प्रशांत बापट कोरबा जिला में छत्तीसगढ़ विद्युत मण्डल दर्री के हसदेव ताप बिजली घर में अधीक्षण अभियंता हैं। बापट दो भाइयों में बड़े थे। चार साल पहले वे नौसेना में लेफ्टिनेंट चुने गए थे। इस हादसे में मारे गए लोगों में चार राजस्थान के हैं। वहीं, दो-दो छत्तीसगढ़ के एक-एक दिल्ली और महाराष्ट्र के रहने वाले थे, जबकि एक की पहचान नहीं हो पाई है।

 

 

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए facebook page like करें 

Leave a Reply

Your email address will not be published.