Categories
Top News Mandi State News

जोगिंदरनगर के चौंतड़ा को जयराम सरकार की 110 करोड़ रुपये की सौगात

मुख्यमंत्री जयराम ने किए विकासात्मक परियोजनाओं के लोकार्पण व शिलान्यास

जोगिंदरनगर। मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने जिला मंडी के जोगिंदरनगर में स्वर्ण जयंती पंच परमेश्वर ग्राम स्वराज सम्मेलन को संबोधित करते हुए कहा कि प्रदेश सरकार राज्य के पंचायती राज संस्थानों को सुदृढ़ करने के लिए संकल्पबद्ध हैं, क्योंकि ये लोकतंत्र की आधारभूत इकाई है और प्रदेश के समग्र विकास में इनका योगदान महत्वपूर्ण है। प्रदेश सरकार पंचायती राज संस्थानों का सुचारू क्रियान्वयन सुनिश्चित करने के लिए निर्वाचित प्रतिनिधियों को हर संभव सहायता प्रदान करेगी। उन्होंने पंचायती राज संस्थानों के निर्वाचित प्रतिनिधियों को अधिक जिम्मेदारी और समर्पण भाव के साथ कार्य करने का आग्रह किया ताकि वे लोगों की अपेक्षाओं पर खरा उतर सकें।  उन्होंने पंचायती राज संस्थानों के प्रभावी कार्यान्वयन में महिलाओं की भूमिका की भी सराहना की।

यह भी पढ़ें : शिमला-मटौर एनएच: भंगवार से कांगड़ा बनेगा 4 लेन, नवंबर में शुरू होगा काम

उन्होंने संस्थानों के निर्वाचित प्रतिनिधियों से प्रदेश सरकार द्वारा शुरू की गई विभिन्न विकासात्मक योजनाओं के लाभार्थियों की पहचान करने का भी आग्रह किया, ताकि समाज के निम्न वर्ग को विकास के लाभ मिल सकें। मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश में जोगिंदरनगर विधानसभा आदर्श विधानसभा बनने की ओर अग्रसर है। उन्होंने आज जोगिंदरनगर विधानसभा क्षेत्र के चौंतड़ा में 110 करोड़ रुपये लागत की विकासात्मक परियाजनाओं के शिलान्यास व लोकार्पण किए हैं। उन्होंने कहा कि यह प्रदर्शित करता है कि पिछले साढ़े तीन सालों में विकास की गति को बढ़ावा मिला है। जोगिंदरनगर विधानसभा क्षेत्र में करोड़ों रुपये की विकासात्मक परियोजनओं का क्रियान्वयन किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि इस महामारी के बावजूद प्रदेश सरकार राज्य का निर्बाध गति से विकास सुनिश्चित कर रही है, जिसके लिए उन्होंने शिमला से वर्चुअली राज्य के लगभग 42 विधानसभा क्षेत्रों में 4000 करोड़ रुपये लागत की विकासात्मक परियोजनओं के लोकार्पण व शिलान्यास किए हैं।

यह भी पढ़ें :- टोक्यो ओलंपिक पदक विजेताओं को हिमाचल सरकार का ऑफर, मिलेगा फ्री पैकेज

जयराम ठाकुर ने कहा कि जोगिन्द्रनगर क्षेत्र में 160 करोड़ रुपये लागत की तीन जलापूर्ति और सिंचाई परियोजनाओं का निर्माण किया जाएगा, जिनके पूरा होने से क्षेत्र की वर्षों से चली आ रही पानी की समस्या का समाधान सुनिश्चित होगा। मुख्यमंत्री ने चौंतड़ा में कड़कनाथ ब्रीड की हैचरी, 15 लाख रुपये की लागत से फनाहिया गल्लु सड़क की मैटलिंग व टायरिंग, 15 लाख रुपये की लागत से खनागर सड़क, तीन नई पंचायतों के पंचायत भवन निर्माण के लिए प्रत्येक को 10 लाख रुपये, लडभड़ोल में अटल आदर्श विद्यालय खोलने, क्षेत्र के पशु अस्पताल भवन के लिए 50 लाख रुपये, पीपली ग्राम पंचायत में प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र खोलने, स्वास्थ्य उपकेन्द्र गोलवा को प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र में स्तरोन्नत करने, पुलिस चैकी लड़भडोल को पुलिस थाना में स्तरोन्नत करने, मकरेड़ी में लोक निर्माण विभाग का उप मण्डल खोलने, सीआरएफ के अन्तर्गत कोटीपतन पुल के लिए 23 करोड़ रुपये, प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र चैंतड़ा को सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र में स्तरोन्नत करने, वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला चैंतड़ा में बहुउद्देशीय स्टेडियम के निर्माण और कन्या विद्यालय जोगिन्द्रनगर में बैडमिंटन कोर्ट के निर्माण और प्रेस क्लब भवन जोगिन्द्रनगर के लिए 10 लाख रुपये देने की घोषणा की।

जयराम ठाकुर ने जोगिंदरनगर में एचआरटीसी के क्षेत्रीय प्रबन्धक कार्यालय का लोकार्पण किया और नए बस रूट जोगिन्द्रनगर से सीमास को झंडी दिखाई। उन्होंने नाबार्ड के अन्तर्गत 5.67 करोड़ रुपये लागत से निर्मित डोल रक्ताल चंगेड़ सड़क और पट्टा नाला पर पुल का लोकार्पण किया। मुख्यमंत्री ने जोगिन्द्रनगर तहसील में 25.85 करोड़ रुपये की लागत से उठाऊ जलापूर्ति योजना नेरी चिमणु, लांगणा, उठाऊ जलापूर्ति योजना कराग फागला, जलापूर्ति योजना कथोण, पंजालग, पेयजल आपूर्ति योजना खुड्डी रास, डुग, टोडल, गदयाड़ा, खडीहार जलापूर्ति योजना व जलापूर्ति योजना चतुर्भुजा बसाही, तहसील जोगिंदरनगर की ग्राम पंचायत ब्यूंह और नोहली की बस्तियों के लिए 9.99 करोड़ रुपये लागत की उठाऊ जलापूर्ति योजना, ग्राम पंचायत टिकरी, मुशैहरा, भरयारा, चैंतड़ा और पडेन सैंथल में 6.52 करोड़ रुपये लागत की उठाऊ जलापूर्ति योजना और चौंतड़ा खण्ड में 7.19 करोड़ रुपये की सात सिंचाई योजनाओं के कल्स्टर का शिलान्यास किया।

जयराम ठाकुर ने प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना के अन्तर्गत 14.52 करोड़ रुपये लागत से धेलु से भतेहर सड़क के उन्नयन कार्य और 12.72 करोड़ रुपये लागत से नाबार्ड के अन्तर्गत बगोड़ा बगला हार्ड रोपड़ी मोरदुग चांदनी सड़क की मैटलिंग, टायरिंग कार्य एवं शेष कार्यों का भूमि पूजन किया। उन्होंने 22.82 करोड़ रुपये की लागत से सीआरएफ के अन्तर्गत धर्मपुर-संधोल सड़क वाया सियूंह-लंगाणा पर कोठीपतन में ब्यास नदी पर फुटपाथ सहित 160 मीटर डब्बल लेन स्पैन पुल और 4.74 करोड़ रुपये लागत के सपारू लांघा घड़वां सड़क के कार्य का शिलान्यास किया।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए facebook page like करें 

Leave a Reply

Your email address will not be published.