Categories
Top News Himachal Latest Una State News

चिंतपूर्णी में बेकाबू भीड़ बनी टेंशन, अब प्रशासन करने जा रहा कुछ ऐसा

4 सेक्टर में बांटा जाएगा क्षेत्र, मैजिस्ट्रेट करेंगे निगरानी

ऊना। प्रसिद्ध शक्तिपीठ चिंतपूर्णी मंदिर में श्रद्धालुओं की बेकाबू हो रही भीड़ ने प्रशासन की चिंता बढ़ा दी है। मंदिर की सुरक्षा व्यवस्था तथा अन्य प्रबंधों पर आज एक बैठक आयोजित हुई, जिसकी अध्यक्षता मंदिर आयुक्त एवं उपायुक्त ऊना राघव शर्मा ने की।

बैठक में डीसी ने भीड़ प्रबंधन के बारे में अधिकारियों के साथ विस्तार से चर्चा की तथा कहा कि मंदिर क्षेत्र को चार सेक्टरों में बांटा जाएगा, जिसकी निगरानी का जिम्मा सेक्टर मैजिस्ट्रेट करेंगे। उन्होंने कहा कि कोरोना की बंदिशें खुलने के बाद रविवार व अन्य छुट्टी वाले दिनों में श्रद्धालुओं की संख्या लगातार बढ़ रही है। इसलिए शंभू बैरियर, चिंतपूर्णी सदन व एमआरसी में बैरिकेडिंग कर श्रद्धालुओं की भीड़ का प्रबंधन किया जाएगा। इसके अतिरिक्त उन्होंने पुलिस विभाग को एक अतिरिक्त बटालियन तैनात करने के निर्देश भी दिए, ताकि छुट्टी वाले दिनों में व्यवस्था दुरुस्त रहे।
डीसी ने कहा कि सुरक्षाकर्मियों में बेहतर तालमेल के लिए चिंतपूर्णी एसएचओ को मंदिर सुरक्षा अधिकारी नियुक्त किया जाएगा, जो पुलिस जवानों के साथ-साथ होमगार्ड व मंदिर के सुरक्षा कर्मियों के बीच समन्वय स्थापित करेगा। उन्होंने कहा कि ड्यूटी पर तैनात जवानों को बॉडी कैमरा व वॉकी-टॉकी भी दिए जाएंगे।

राघव शर्मा ने कहा कि कोरोना वायरस अभी पूरी तरह से गया नहीं है तथा अभी भी महामारी की तीसरी लहर आने की आशंका जताई जा रही है। ऐसे में मंदिर आने वाले श्रद्धालुओं से कोविड अनुरूप व्यवहार की अनुपालना करवाई जाएगी तथा नियमों का पालन न करने वालों पर सख्ती की जाएगी। उन्होंने कहा कि आपदा प्रबंधन अधिनियम के तहत अभी भी मंदिर परिसर में मौली बांधना प्रतिबंधित है, ऐसे में नियमों की अवेहलना करने वालों पर एफआईआर दर्ज की जाए।

इस अवसर पर एसपी अर्जित सेन ठाकुर, एसडीएम अंब मनेश यादव, सहायक उपायुक्त गौरव चौधरी, डीएसपी अनिल मैहता तथा मंदिर अधिकारी अभिषेक भास्कर सहित अन्य अधिकारी उपस्थित रहे।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए facebook page like करें 

Leave a Reply

Your email address will not be published.