Categories
Top News Crime Lahoul Spiti State News

लाहौल के नालडा में लैंडस्लाइड, चंद्रभागा का जल प्रवाह रुकने से चार घर डूबे

एक तरफ खोल दिया गया बहाव, रामलाल मार्कंडेय लाहौल के लिए रवाना

केलंग। हिमाचल प्रदेश में इन दिनों लैंडस्लाइड के मामले बढ़ते जा रहे हैं। अब ताजा खबर के अनुसार आज सुबह लाहौल के नालडा में लैंडस्लाइड के कारण चंद्रभागा नदी का प्रवाह रुक गया। केलंग में जुंडा गांव के सामने पहाड़ी टूटने से चंद्रभाग नदी का बहाव पूरी तरह रुक गया और जुंडा गांव के चार घर पानी में डूबे गए। नदी का पानी रुकने से सबसे अधिक खतरा जुंडा व जसरथ को हुआ है। पानी रुकने से जुंडा के किसानों की जमीन पानी में डूब गई है। हालांकि प्रशासन ने तुरंत मौके पर पहुंच बहाव को एक तरफ खोल दिया जिससे बड़ा खतरा टल गया। तकनीकी शिक्षा मंत्री डॉक्टर रामलाल मार्कंडेय ने इसकी जानकारी दी है।

किन्नौर लैंडस्लाइड : 16 लोग अभी भी लापता, जारी रहेगा सर्च आपरेशन

उन्होंने कहा कि नाल्डा के पास लैंडस्लाइड से दरिया का जो बहाव अवरुद्ध हुआ था वह अब एक तरफ से खुल गया है। मार्कंडेय मुख्यसचिव हिमाचल प्रदेश रामसुभग सिंह एवं पुलिस महानिदेशक संजय कुंडू के साथ हेलीकॉप्टर के माध्यम से एनाडेल शिमला से लाहौल के लिए रवाना हो गए हैं। इस बारे में मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर से भी विचार विमर्श किया जा रहा है।

किन्नौर लैंडस्लाइड : मृतकों के परिजनों को 4-4 लाख और घायलों को 50-50 हजार

नदी किनारे की जमीन में अधिकतर ग्रामीणों ने गऊशाला बनाई है, लेकिन चार परिवारों के घर भी वहीं हैं। स्थिति को देखते हुए चारों परिवारों को घर छोड़ना पड़ा है। सभी परिवार सुरक्षित अपने रिश्‍तेदारों के पास आ गए हैं। जुंडा के ग्रामीण लाल चंद ने बताया कि देवी चंद, सुखदास, रमेश के घर को खतरा बढ़ गया है। नदी लगातार बड़े डैम का रूप लेती जा रही है। चारों परिवारों के घर पानी में डूब गए हैं जबकि उनके पशुओं को रेस्क्यू किया जा रहा है। इसी के साथ लाहोल के सभी पुलों को खतरा बढ़ गया है। लाहुल-स्पीति पुलिस ने सभी से अनुरोध किया है कि निचले इलाकों से ऊंचे इलाकों को तरफ जाएं। अधिक जानकारी के लिए जिला आपदा नियंत्रण कक्ष 9459461355 में संपर्क किया जा सकता है।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए facebook page like करें

Leave a Reply

Your email address will not be published.