Categories
Top News business

पहली जुलाई से जेब ढीली करने को हो जाओ तैयार, गैस सिलेंडर से वाहनों के दाम तक होंगे कई बदलाव

भारतीय स्टेट बैंक (SBI) ग्राहकों को देने वाली है झटका

नई दिल्ली। पहली जुलाई से देश में बड़े बदलाव होने वाले हैं। इनमें काफी बदलाव ऐसे हैं जो आम आदमी पर भारी पड़ने वाले हैं। इनमें भारतीय स्टेट बैंक द्वारा दी जाने वाली कैश निकासी की सुविधा, भारतीय स्टेट बैंक और आईडीबीआई बैंक द्वारा दी जाने वाली मुफ्त चेक की सुविधा, रसोई गैस सिलेंडर के दाम, वाहनों के दाम आदि शामिल हैं।

गैस सिलेंडर के दाम

तेल कंपनियां हर महीने की शुरुआत में एलपीजी सिलेंडर के दामों की समीक्षा करती है। 1 जुलाई, 2021 से देश में रसोई गैस सिलेंडर की कीमत बदल जाएगी। हर राज्य में टैक्स अलग-अलग होता है और इसके हिसाब से एलपीजी के दामों में अंतर होता है। इसकी कीमत औसत अंतरराष्ट्रीय बेंचमार्क और विदेशी विनिमय दरों में बदलाव जैसे कारक निर्धारित करते हैं।

वाहनों के दाम बढ़ेंगे

देश की सबसे बड़ी कार निर्माता कंपनी मारुति सुजुकी पहली जुलाई से अपनी गाड़ियों की कीमतों में बढ़ोतरी करने का फैसला कर चुकी है। इस बढ़ोतरी की वजह स्टील, प्लास्टिक और एलुमिनियम के दामों में आए उछाल को माना जा रहा है। इसके अलावा हीरो मोटोकॉर्प भी पहली जुलाई से अपनी बाइक्स और स्कूटर के दाम बढ़ाने जा रही है। हीरो के इस कदम के बाद बाकी दोपहिया वाहन निर्माता कंपनियां भी जल्द ही अपने वाहनों के दामों में बढ़ोतरी करने का एलान कर सकती हैं। हीरो मोटोकॉर्प पहली जुलाई से अपने स्कूटर और बाइक्स की कीमतों में 3000 रुपए तक की बढ़ोतरी करेगी।

SBI ग्राहकों को झटका

देश के सबसे बड़े सरकारी बैंक, भारतीय स्टेट बैंक (SBI) ग्राहकों को झटका देने वाली है। एसबीआई पहली जुलाई, 2021 से नए सर्विस चार्ज लागू करेगी। पहली जुलाई से बेसिक सेविंग्स बैंक डिपॉजिट खाताधारकों को बैंक के ब्रांच से या फिर एटीएम से मुफ्त में पैसे निकालने की सुविधा सिर्फ चार बार ही मिलेगी। यदि ग्राहक चार बार से ज्यादा निकासी करते हैं तो बैंक इस पर चार्ज वसूलेगा। ब्रांच चैनल या एटीएम में प्रति कैश निकासी पर 15 रुपए के साथ जीएसटी वसूला जाएगा।

चेक का इस्तेमाल महंगा

बेसिक सेविंग्स बैंक डिपॉजिट खाताधारकों को एसबीआई एक वित्त वर्ष में 10 चेक मुफ्त देगा। इसके बाद 10 चेक वाली चेकबुक के लिए आपको 40 रुपए के साथ जीएसटी का भुगतान करना होगा। वहीं 25 चेक वाली चेकबुक के लिए ग्राहकों से 75 रुपए के साथ जीएसटी वसूला जाएगा। इसके साथ ही 10 चेक वाली इमरजेंसी चेकबुक के लिए 50 रुपए के साथ जीएसटी का भुगतान भी करना होगा। हालांकि वरिष्ठ नागरिकों को चेकबुक पर नए सर्विस चार्ज से छूट दी गई है।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए facebook page like करें 

IFSC कोड बदलेगा

केनरा बैंक ने ग्राहकों को सूचित किया है कि सिंडिकेट बैंक का आईएफएससी कोड पहली जुलाई 2021 से अमान्य हो जाएगा। दरअसल सिंडिकेट बैंक का मर्जर केनरा बैंक में हुआ है, जिसके बाद भी ग्राहक पुरानी चेकबुक का ही इस्तेमाल कर रहे थे। ग्राहकों की पुरानी चेकबुक 30 जून तक ही काम करेगी। इसके बाद ग्राहक इसका इस्तेमाल नहीं कर पाएंगे। इसलिए बैंक ग्राहक तुरंत अपनी शाखा में जाकर इसे अपडेट कराएं।

आईडीबीआई देगा तोहफा

पहली जुलाई से आईडीबीआई बैंक के ग्राहकों को हर साल सिर्फ 20 पन्ने की चेकबुक ही निशुल्क मिलेंगी। उसके बाद प्रत्येक चेक पन्ने के लिए ग्राहकों को पांच रुपए का भुगतान करना होगा। अभी तक बैंक के ग्राहकों को खाता खोलने के पहले साल 60 पन्ने की चेकबुक निशुल्क मिलती थी। उसके बाद के वर्षों के लिए बैंक 50 पन्ने की चेकबुक देता है। उसके बाद प्रत्येक चेक के लिए ग्राहक को पांच रुपए का भुगतान करना होता था। हालांकि, सबका सेविंग अकाउंट के तहत आने वाले ग्राहकों पर नई व्यवस्था लागू नहीं होगी और उन्हें एक साल में निशुल्क असीमित चेक मिलते रहेंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.